आधार कार्ड को ड्राइविंग लाइसेंस से लिंक करवाने के फायदे जाने पूरा प्रोसेस

Driving licence भारत सरकार के आदेश अनुसार हर उस व्यक्ति को जिसके पास ड्राइविंग लाइसेंस है उनको अपने ड्राइविंग लाइसेंस को आधार कार्ड से लिंक करवाना बहुत ही जरूरी है और इसके कई फायदे भी मिलने वाले हैं

Aadhar card हालांकि आज के समय में आधार कार्ड की आवश्यकता हर उस क्षेत्र में पडती है जहां पर आप किसी भी सरकारी कार्य को करने के लिए जाते हैं जैसे कि किसी भी सरकारी योजना का लाभ उठाना हो या फिर पीएफ का केवाईसी करवाना हो या फिर अपना नया बैंक अकाउंट खुलवाना हो साथ ही आपको बहुत सारे ऐसे प्राइवेट जगहों पर भी आधार कार्ड की आवश्यकता अनिवार्य हो गई है इसलिए आधार कार्ड को मुख्य दस्तावेज के रूप में भी उपयोग किया जाने लगा है

अगर आप कहीं जॉब करने के लिए जाते हैं तो भी सबसे पहले आपसे आधार कार्ड मांगा जाता है या फिर आप होटल में रूम बुक करने जाते हैं चाहे तो आप टिकट बुक करवाने जाते हैं तब भी आपको आधार कार्ड की आवश्यकता पड़ती है इसीलिए जब तक आपका आधार कार्ड आपके सभी डॉक्यूमेंट के साथ लिंक नहीं होगा तब तक आप सभी सुविधाओं का उपयोग नहीं कर सकते हैं

आधार-कार्ड-को-ड्राइविंग-लाइसेंस-से-लिंक.webp

Driving licence आज के समय में ड्राइविंग लाइसेंस का उपयोग भी काफी अनिवार्य हो गया है अगर आपके पास आधार कार्ड है और आप आधार कार्ड पर एड्रेस चेंज करवाना चाहते हैं तो भी आपको ड्राइविंग लाइसेंस जैसे डॉक्यूमेंट की आवश्यकता पड़ती है ड्राइविंग लाइसेंस के बिना आप किसी भी प्रकार का वाहन नहीं चला सकते हैं

ड्राइविंग लाइसेंस के बिना वाहन चलाने पर सरकार के द्वारा एक भारी रकम पेनाल्टी के तौर पर भी देनी पड़ती है इसलिए ड्राइविंग लाइसेंस जैसे दस्तावेज का उपयोग भी एक अहम दस्तावेज के रूप में किया जाता है इसीलिए भारत सरकार के द्वारा यह आदेश जारी किया गया है की आधार कार्ड को अपने ड्राइविंग लाइसेंस के द्वारा लिंक करवाने भी अनिवार्य है

ड्राइविंग लाइसेंस को आधार कार्ड से लिंक करवाने के फायदे भारत सरकार ने फर्जी लाइसेंस का उपयोग करने वालों के ऊपर रोक लगाने के लिए और एक मुख्य दस्तावेज के रूप में ड्राइविंग लाइसेंस का उपयोग करने के लिए ड्राइविंग लाइसेंस को आधार कार्ड से लिंक करवाने का आदेश दिया है भारत सरकार के अनुसार इससे फर्जी लाइसेंस का उपयोग करने वालों के ऊपर रोक लगेगी और इससे आम जनता को भी काफी फायदा होने वाला है

हालांकि ड्राइविंग लाइसेंस को आधार कार्ड से लिंक करवाने पर आपको यह भी फायदा होगा कि अगर आपका ड्राइविंग लाइसेंस कहीं गिर जाता है या चोरी हो जाता है और आपके पास आपके ड्राइविंग लाइसेंस का नंबर नहीं है अगर आपने अपने ड्राइविंग लाइसेंस को आधार कार्ड के द्वारा लिंक करवा रखा है तो आप आसानी से अपने ड्राइविंग लाइसेंस का नंबर प्राप्त कर सकते हैं और इसकी डुप्लीकेट कॉपी भी प्राप्त कर सकते हैं

भारत के अंदर सड़क राज्य परिवहन के अनुसार एक व्यक्ति के पास एक ही लाइसेंस होना चाहिए ऐसे भी बहुत सारे लोग एक से अधिक लाइसेंस का भी उपयोग करते हैं इसीलिए भारत सरकार ने इन्हीं सब मुद्दों को मद्देनजर रखते हुए आधार कार्ड को ड्राइविंग लाइसेंस लिंक करवाने का आदेश जारी किया है अपने ड्राइविंग लाइसेंस को आधार कार्ड से लिंक करवाने के लिए आपको कहीं जाने की जरूरत नहीं है आप घर बैठे अपने मोबाइल से आधार कार्ड को ड्राइविंग लाइसेंस के द्वारा लिंक कर सकते हैं

इसे भी पढ़ा गया : PAN card पर भरना पड़ेगा ₹1000 का जुर्माना

ड्राइविंग लाइसेंस को आधार कार्ड से कैसे लिंक करें अपने आधार कार्ड को ड्राइविंग लाइसेंस से लिंक करने के लिए सबसे पहले राज्य परिवहन विभाग की आधिकारिक वेबसाइट parivihan पर जाना होगा इस वेबसाइट पर जाने के बाद आपको लिंक आधार के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा इसके बाद आपके सामने ड्रॉप डाउन मेनू आएगा जिसमें आपको ड्राइविंग लाइसेंस के विकल्प को चुनना होगा और इसके बाद अपना ड्राइविंग लाइसेंस नंबर डालकर डिटेल चेक कर रहा होगा

इसके बाद आप अपने मोबाइल नंबर के द्वारा ओटीपी से वेरीफाई कर के आसानी से अपने आधार कार्ड को ड्राइविंग लाइसेंस से लिंक कर सकते हैं यहां पर एक बात का विशेष ध्यान रखें जब भी आप आधार कार्ड को ड्राइविंग लाइसेंस के द्वारा लिंक करने जाते हैं तो आपके आधार कार्ड में आपका मोबाइल नंबर लिंक होना चाहिए अन्यथा आप अपने ड्राइविंग लाइसेंस को आधार कार्ड के द्वारा लिंक नहीं कर सकते हैं

निष्कर्ष भारत सरकार के आदेश अनुसार फर्जी लाइसेंस और एक से अधिक लाइसेंस के उपयोग को रोकने के लिए उठाए गए इस कदम को बढ़ावा देने के लिए आपको अपने आधार कार्ड को ड्राइविंग लाइसेंस के साथ जरूर जोड़ना चाहिए इस बारे में आपकी क्या प्रतिक्रिया है हमें जरूर बताएं धन्यवाद

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here