WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

Epfo: पीएफ खाते की डिटेल को अपडेट कर सकते हैं घर बैठे यहां समझिए आसान तरीका (2023)

Janhvi Shankar

Epfo: पीएफ खाते की डिटेल को अपडेट करना बहुत ही आसान है इसे आप घर बैठे अपने स्मार्टफोन या कंप्यूटर के द्वारा बहुत ही आसानी से कर सकते हैं

Epfo पीएफ खाते की डिटेल को अपडेट करें

दिल्ली: किसी भी सरकारी या गैर सरकारी संस्था में काम कर रहे हैं व्यक्तियों के लिए पीएफ खाते में अंशदान देना सरकार की तरफ से अनिवार्य किया गया है यानी कि यदि व्यक्ति किसी भी प्राइवेट या सरकारी कंपनी में कार्य करता है तो उसे पीएफ जमा करना ही पड़ता है और एक तरह से देखा जाए तो यह किसी भी कर्मचारी के लिए उसके भविष्य को सुरक्षित रखने के लिए एक बेहतर प्लान है जो रिटायर होने के बाद एक अच्छा रिटर्न प्रदान करता है पीएफ खाते का पूरा मैनेजमेंट कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (EPFO) के द्वारा ही किया जाता है

किसी भी कर्मचारी के पीएफ खाते की डिटेल बहुत ही ज्यादा मायने रखती है पीएफ खाते की डिटेल में कई सारी चीजें उपलब्ध होती है इसके अंदर वह सभी चीजें दर्ज होती है जैसे कि कर्मचारी का UAN ( यूनिवर्सल अकाउंट नंबर) उसका पूरा नाम पूरा पता इसके साथ साथ कर्मचारी का बैंक अकाउंट नंबर, पैन कार्ड की डिटेल आधार कार्ड की डिटेल और कर्मचारी ने किस कंपनी में कार्य किया है उसकी जॉइनिंग डेट क्या है और उसने यदि कंपनी छोड़ दिया है तो उसका एग्जिट डेट क्या है और नॉमिनी डिटेल क्या है

इसे भी पढ़ें: Epfo: पीएफ कर्मचारियों की यह गलती पड़ सकती है भारी, बंद हो सकता है अकाउंट जानिए क्या है नियम

पीएफ खाते की डिटेल को अपडेट करना बहुत ही अनिवार्य होता है क्योंकि यदि आप किसी कंपनी में कार्य कर रहे हैं और किसी कारणवश कंपनी छोड़ देते हैं जिसकी वजह से आपका वह पीएफ अकाउंट बंद हो चुका है तो दूसरी कंपनी में ज्वाइन करने के बाद इसमें कई सारी चीजों को अपडेट करना होता है इसी तरह से यदि आपका बैंक अकाउंट नंबर बदल चुका है तो इसे भी अपडेट करना अनिवार्य होता है साथ ही साथ यदि आप पुरानी कंपनी के छोड़ देते हैं तो उसका एग्जिट डेट भी अपडेट करना अनिवार्य होता है

Epfo (Employees Provident Fund Organisation) के द्वारा सभी कर्मचारियों को एक UAN (Universal account number) प्रदान किया जाता है जो कंपनी बदलने के बावजूद भी नहीं बदला जाता है क्योंकि यह यूनिवर्सल अकाउंट नंबर होता है और इसी अकाउंट नंबर के अंदर कर्मचारी जितनी भी कंपनियों को बदलता है उनके पीएफ नंबर दर्ज होते रहते हैं मौजूदा समय में सभी व्यक्तियों के पास सिर्फ एक यूएन नंबर और एक ही पीएफ नंबर होना अनिवार्य है यदि आप किसी कंपनी को बदल चुके हैं तो आपको जल्द से जल्द अपने निधि को नहीं पीएफ अकाउंट में ट्रांसफर करवा लेना चाहिए

Follow US: Google News

पीएफ खाते की डिटेल अपडेट करने के लिए ज्यादातर लोगों को नजदीकी ग्राहक सेंटर का सहारा लेना पड़ता है या फिर आस-पास यदि कोई ऐसी दुकान मौजूद है जहां पर पीएफ खाते में मौजूद डिटेल को अपडेट किया जाता है तो लोग वहां पर जाकर अपनी डिटेल को अपडेट करवाते हैं लेकिन क्या आप जानते हैं कर्मचारी भविष्य निधि संगठन के द्वारा सभी कर्मचारियों के लिए एक ऐसा पाउडर प्रदान किया जाता है जिसके द्वारा आप बहुत ही आसानी से घर बैठे अपने पीएफ अकाउंट की डिटेल अपडेट कर सकते हैं

पीएफ खाते की डिटेल को अपडेट करने के लिए जरूरी है UAN और पासवर्ड

किसी भी कर्मचारी को अपने पीएफ खाते को एक्सेस करने के लिए यूएएन और पासवर्ड अनिवार्य होता है जब भी कोई व्यक्ति किसी कंपनी में जोइनिंग करता है तो ज्वाइन करने के बाद उसे यूएएन नंबर दे दिया जाता है लेकिन यहां पर समस्याएं आती है कि कर्मचारी के पास पासवर्ड नहीं होता है आपने यह नंबर का पासवर्ड प्राप्त करने के लिए कर्मचारी को सबसे पहले अपने यूएएन नंबर को एक्टिवेट करना होता है

इस तरह से बना सकते हैं यूएएन नंबर का पासवर्ड– अपने पीएफ अकाउंट को एक्सेस करने के लिए पासवर्ड बनाना बहुत ही आसान है इसके लिए आपको कर्मचारी भविष्य निधि संगठन की ऑफिशियल वेबसाइट पर जाना होगा यहां पर स्क्रॉल करके सबसे नीचे जाने पर आप को एक्टिवेट यूएएन का ऑप्शन दिखाई देगा जहां पर आप अपना यूएएन नंबर डालकर साथ ही साथ अपने रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर डेट ऑफ बर्थ को दर्ज करके अपने मोबाइल नंबर पर ओटीपी पा सकते हैं और इसी ओटीपी को दर्ज करने के बाद आप आसानी से अपना नया पासवर्ड बना सकते हैं

जब एक बार आपको अपना यूएएन नंबर का पासवर्ड प्राप्त हो जाता है तो लोगिन करने के बाद इसे दोबारा रिसेट करना होता है और जब इसे आप रिसेट कर लेते हैं तो यह परमानेंट रूप से सक्रिय हो जाता है जिसे आप बाद में बदलना चाहते हैं तो बदल भी सकते हैं अपने खाते में लॉग इन करने के लिए आपको UAN Login करना होगा जहां पर आप से यूएएन नंबर और पासवर्ड पूछा जाता है साथ ही साथ कि यहां पर आपको कैप्चा भी भरना होता है जिसकी बात आप आसानी से अपने खाते में एक्सेस पा सकते हैं

इन स्टेप्स को फॉलो करके कर सकते हैं अपने पीएफ खाते की डिटेल को अपडेट

  • सबसे पहले आपको ईपीएफओ के पोर्टल पर जाकर अपने यूएएन नंबर और पासवर्ड के द्वारा लॉगइन करना होगा
  • लॉग इन करने के बाद यदि आप अपने प्रोफाइल में बदलाव करना चाहते हैं तो इसके लिए आप अपने प्रोफाइल के ऑप्शन पर क्लिक कर सकते हैं
  • प्रोफाइल पर क्लिक करने के बाद आप अपने ऐड्रेस प्रूफ अपनी फोटो और डेट ऑफ बर्थ जैसी जानकारी को देख सकते हैं और कुछ ऑप्शन का बदलाव भी कर सकते हैं
  • यदि आप अपने बेसिक डिटेल का बदलाव करना चाहते हैं जैसे कि पैन कार्ड बैंक का अकाउंट और आधार डिटेल के साथ साथ डेट ऑफ बर्थ तो आपको मैनेज के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा
  • मैनेज के ऑप्शन पर क्लिक करने के बाद आपको बेसिक डिटेल और केवाईसी और mark as exit का ऑप्शन दिखाई देता है
  • यदि आप अपने पैन कार्ड आधार कार्ड और बैंक अकाउंट की डिटेल को अपडेट करना चाहते हैं तो यहां पर केवाईसी के ऑप्शन पर क्लिक कर सकते हैं
  • यदि आप अपने खाते से संबंधित डिटेल को अपडेट करना चाहते हैं तो बेसिक डिटेल पर जाकर इसे अपडेट कर सकते हैं
  • यदि आप किसी भी कंपनी की एग्जिट डेट को अपडेट करना चाहते हैं तो आप तीसरे वाले ऑप्शन यानी कि मार्क एग्जिट के ऑप्शन का चुनाव कर सकते हैं

जब आप यहां से किसी भी डिटेल को अपडेट करने के लिए सबमिट करते हैं तो यह पोर्टल पर सबमिट हो जाता है और आपके कंपनी में भी अप्रूवल के लिए भेज दिया जाता है जिसके कुछ समय के बाद आपका अप्रूवल मिल जाने के बाद या पूरी तरह से अपडेट हो जाता है या फिर यदि यह कंपनी के द्वारा एक्सेप्ट नहीं किया जाता है तो 60 दिनों के बाद ऑटोमेटिक रूप से रिजेक्ट हो जाता है फिर दोबारा से अपडेट करने के लिए सबमिट करना होता है

इस तरह पता कर सकते हैं बैंक अकाउंट अपडेट हुआ या नहीं

जब भी आप अपने नए बैंक अकाउंट को अपने ईपीएफओ खाते के साथ जोड़ते हैं तो यह सबमिट हो जाता है और सबमिट होने के बाद या अप्रूवल के लिए पेंडिंग में पड़ा रहता है लेकिन यदि आप यह पता करना चाहते हैं कि आपका बैंक अकाउंट आप के खाते के साथ आपके नियोक्ता के द्वारा जोड़ दिया गया है या नहीं तो यह बहुत ही आसानी से पता लगा सकते हैं

जब आप अपने पीएफ अकाउंट में लॉगिन करेंगे तो लोगिन करने के बाद आपको फ्रंट पेज पर ही नीचे अकाउंट डिटेल के ऑप्शन में बैंक अकाउंट के सामने आपका खाता नंबर और Digitally Approved KYC का ऑप्शन दिखाई देने लगता है जिससे यह पता चलता है कि आपका बैंक अकाउंट सही तरीके से आपके पीएफ खाता के साथ जोड़ दिया गया है कभी-कभी कर्मचारी के मोबाइल नंबर पर संदेश भी प्राप्त हो जाता है और यदि आप अपना ईपीएफओ क्लेम करना चाहते हैं तो आसानी से कर सकते हैं

सैलरी अकाउंट पर मिलते हैं बेनिफिट

यह खाते की डिटेल अपडेट करते समय यदि आप अपने बैंक अकाउंट को बदल रहे हैं तो आपको इस बात का विशेष ध्यान रखना चाहिए कि यदि आपके पास सैलरी अकाउंट है तो यह आपके लिए विशेष फायदे प्रदान कर सकता है salary account के द्वारा इस बात का पता चलता है कि आप जिस कंपनी में कार्य कर रहे हैं और आपके नियोक्ता के द्वारा जो अंशदान दिया जाता है वह इसी अकाउंट के द्वारा दिया जा रहा है

हालांकि कर्मचारी भविष्य निधि संगठन के द्वारा बैंक अकाउंट को लेकर इस प्रकार का कोई भी नियम नहीं लागू किया गया है यदि आपके पास सैलरी अकाउंट नहीं है तो भी कोई समस्या नहीं है यदि आपके पास कोई दूसरा बैंक अकाउंट है और आप इस अकाउंट में अपने पीएफ अकाउंट में अंशदान के रूप में जमा की गई राशि को क्लेम करना चाहते हैं तो आप आसानी से कोई भी अपने नाम का बैंक अकाउंट जोड़कर क्लेम कर सकते हैं

Also Read: PF पर ज्यादा रिटर्न के लिए सरकार बना रही नया प्लान इस तरह से बढ़ेगा आपका पैसा

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now
Share This Article
Follow:
हमारी वेबसाइट पर सभी Latest news पूरी जांच पड़ताल और सत्यता के आधार पर प्रकाशित की जाती है। हमारा लक्ष्य आप लोगों को sarkari Yojana, business idea, Entertainment, news और हेल्थ के बारे में सही जानकारी प्रदान करना है हमारी टीम हमेशा सत्य और सही जानकारी आप तक पहुंचाने के लिए समर्पित हैं।
Leave a comment