blog examples for students || Beginners

blog examples for students

नमस्कार दोस्तों स्वागत है आपका, हमारे blog tiwariproduction digital india में |
आज की इस पोस्ट में हम जानेंगे की ब्लॉग क्या है | हम किस तरह से ब्लॉगिंग कर सकते हैं |
ब्लॉगिंग करने की कौन कौन से प्लेटफार्म है | और कौन सा प्लेटफार्म आपके लिए सबसे बेहतर है |
और ब्लॉग किस तरह से लिखना चाहिए | ब्लॉग लिखने के क्या-क्या फायदे हैं |
तो चलिए हम जानते हैं कि blog examples for students |

ब्लॉग किसे कहते हैं |blog examples for students

एक सफल ब्लॉगर बनने के लिए आपको हमेशा उसके शुरुआत से जानना जरूरी होता है |
दोस्तों हम जब भी गूगल पर सर्च करते हैं ब्लॉग कैसे चालू करें | तो सर्च करने के बाद
जो भी पोस्ट में दिखाई देती है वह पोस्ट ब्लॉग के अंदर आती है | ब्लॉग कई प्रकार के हो सकते हैं |
कई टॉपिक पर हो सकते हैं | और कई तरह की कैटेगरी में हो सकते हैं | जो भी चीजें आप गूगल पर सर्च करते हैं |

blog-examples-for-students.webp
blog examples for students

वह सारी चीजें हमारे और आपके जैसे लोग ही गूगल पर डालते हैं  | जैसे कि जब कोई सर्च करता है |
तो वह सारी पोस्ट आपके सामने आ जाती है | और आपको जिस चीज की जरूरत होती है |
आप जिस चीज को खोज रहे होते हैं, वह चीजें आपको मिल जाती हैं |

blog examples for students

उदाहरण के लिए आप इस तरह से समझ सकते हैं | कि जिस तरह आप एक किताब से
कोई भी चीज पढ़ते हैं | तो आपको किताबें अपने साथ रखनी पड़ती है | और
अपनी जरूरत के अनुसार उन किताबों को खोज कर वहां से आपको जानकारी प्राप्त करनी होती है |
लेकिन यहां पर सारी चीजें ऑनलाइन होती है | अगर आप बुक की बात करें,
बुक के किसी पैराग्राफ की बात करें | तो वह पैराग्राफ आपको
इंटरनेट पर अगर उपलब्ध मिलता है | तो वह आर्टिकल ही ब्लॉग कहलाता है |

ब्लॉग लिखना कैसे आरंभ करें

दोस्तों अगर आप ब्लॉग लिखना चाहते हैं, तो आपको सबसे पहले यह समझना जरूरी है |
की ब्लाक में कौन-कौन सी चीजें जरूरी होती है, और ब्लॉग कैसे लिखा जाता है |
अपना एक ब्लॉगिंग का वेबसाइट चालू करने के लिए आपको सबसे पहले,
शुरुआत से समझना होगा | कि आप जो ब्लॉग का वेबसाइट बनाना चाहते हैं
उस वेबसाइट में आप किस टाइप के ब्लॉग लिखने वाले हैं | सबसे पहले
आपको टाइप सेलेक्ट करना चाहिए एक अच्छा टाइप का ब्लॉग सोच लेते हैं |

how to start a blog in india for free

तो इसके बाद आपको कैटेगरी सोचना चाहिए | आपको यह अच्छी तरह से समझ लेना चाहिए
कि आपका ब्लॉग किस कैटेगरी में आता है | आपका ब्लॉग एजुकेशनल कैटेगरी में आता है
या फिर टेक की कैटेगरी में आता है या फिर भक्ति की कैटेगरी में आता है |
अगर आप इन सारी चीजों को अच्छी तरह से समझ कर | और उसके बाद आप
अपनी एक वेबसाइट तैयार करते हैं | जिस पर आप ब्लॉग लिखने वाले हैं |
तो आपने सफलतापूर्वक अपने वेबसाइट को सही तरीके से
चलाने के लिए | एक बहुत ही महत्वपूर्ण जानकारी हासिल कर ली है |

ब्लॉग कहां लिख सकते हैं

दोस्तों ब्लॉग लिखने के लिए बहुत लोगों को कन्फ्यूजन रहता है |
कि हम अपने ब्लॉग का स्टार्टिंग कहां से करें | यानी कि हम अपने ब्लॉग को कहां से लिखना चालू करें |
और अपनी वेबसाइट को कहां पर बनाएं | कौन से प्लेटफार्म पर बनाएं कौन सा प्लेटफार्म हमारे लिए सही है |
और कौन सा प्लेटफार्म नहीं सही है | दोस्तों वैसे तो आपको ब्लॉग लिखने के लिए बहुत सारे
ऐसे ही फ्री वेबसाइट मिल जाएंगी | जहां पर आप काफी आसानी से बिल्कुल फ्री में अकाउंट
बनाकर | ब्लॉग लिखना आरंभ कर सकते हैं, अगर आप ब्लॉगिंग के बारे में नहीं जानते हैं |
तो आपको एक फ्री ब्लॉग की वेबसाइट बनाकर शुरुआत करनी चाहिए |
अगर आप बहुत सारे उलझनों में नहीं पड़ना चाहते हैं |

places starting with a blog

अगर आप यह सोचते हैं | कि आपके सिर्फ पर्सनल जानकारी डालने पर ही
आपकी वेबसाइट बनकर तैयार हो जाए | और आप आसानी से एक अच्छा खासा
ब्लॉग लिख सकें | तो इसके लिए आप गूगल ब्लॉगर की साइट पर जाकर | वहां से
अपना एक ब्लॉगिंग का वेबसाइट बना सकते हैं | जो कि बिल्कुल फ्री होता है |
और आपके यहां पर एक भी चार्ज नहीं लगते हैं | इसलिए यह एक बहुत ही आसान रास्ता है

जहां से आप आसानी से ब्लॉगिंग स्टार्ट कर सकते हैं | ब्लॉग लिखने का दूसरा रास्ता है
वर्डप्रेस के द्वारा | आप वर्डप्रेस के द्वारा भी अपनी एक साइड बनाकर | वहां पर
काफी आसानी से अपना ब्लॉग लिखना आरंभ कर सकते हैं | लेकिन यहां पर आपको
फीस भी देना पड़ता हैं | जिसकी कीमत लगभग 4000 से
₹5000 हो सकती है | या फिर इससे ज्यादा भी हो सकती है |

फ्री वेबसाइट निवेश वेबसाइट में अंतर | blog examples for students

दोस्तों जैसा कि आप जानते हैं कि ब्लॉगर एक फ्री वेबसाइट है | तो इसके कुछ अपने फायदे और नुकसान भी होते हैं | क्योंकि जब आप यहां पर वेबसाइट बनाते हैं तो यहां पर आपको अपना डोमेन बनाना होता है | जिसमें आप अपना डोमन बनाते हैं | तो वहां पर आपको डॉट कॉम के साथ-साथ, ब्लॉग स्पॉट भी मिलता है | जो कि आपके डोमेन के लिए एक माइनस पॉइंट हो सकता है |

जैसे कि अगर आप कोई वेबसाइट बनाना चाहते हैं, example.com | तो यहां पर आपको मिलेगा example. Blogspot.com | दूसरी बात यह कि अगर आप की वेबसाइट भविष्य में ज्यादा बड़ी हो जाती है | ज्यादा ट्रैफिक आने लगता है तो आप को मैनेज करने में थोड़ी बहुत समस्याएं हो सकती हैं | क्योंकि यह फ्री वेबसाइट होती है और यहां पर सारी चीजें आपके कंट्रोल में नहीं होती हैं | यहां पर आप सिर्फ अपने ब्लॉग को लिख सकते हैं | अपने वेबसाइट को थोड़ा बहुत कस्टमाइज भी कर सकते हैं |

blog examples for students | निवेश वेबसाइट में अंतर

जिस तरह ब्लॉगर में आपको सारी चीजों का कंट्रोल आपके पास नहीं होता है | उसकी बिल्कुल उल्टे ही यहां पर आपको सारी चीजें अपने कंट्रोल में ही करने पड़ते हैं | यहां पर आप काफी अच्छी तरह से अपने थीम का कस्टमाइजेशन कर सकते हैं | आप एक नॉर्मल डोमिन ले सकते हैं |लेकिन इसके भी कुछ माइनस पॉइंट होते हैं अगर आप यहां पर वेबसाइट बनाना चाहते हैं | तो इसके लिए आपको सबसे पहले एक डोमेन खरीदना पड़ता है |

साथ ही साथ आपको होस्टिंग प्लान भी खरीदना पड़ता है | क्योंकि जिस तरह से यहां पर कस्टम प्लान मिलता है | उसी तरह से आपको सारी चीजें कस्टम ही करनी पड़ती है | आप जब यहां पर डोमेन और होस्टिंग खरीद लेते हैं, तब आपको वर्डप्रेस इंस्टॉल करना होता है | और उसके बाद से अपनी वेबसाइट की कैटेगरी और सरवर सेट करने के बाद | आप अपने सी पैनल में पहुंचते हैं | और उसके बाद आप अपनी वेबसाइट को मैनेज कर सकते हैं |

डोमेन नेम क्या है

जिस तरह से आप www.example.com सर्च करते हैं | तो इसमें आपका यू आर यल ही डोमेन नेम कहलाता है | जहां आपको ब्लॉगर में डोमेन नेम सिर्फ अपनी मर्जी के मुताबिक डालना होता है | यहीं पर आपको वर्डप्रेस के लिए सबसे पहले डोमेन नेम खरीदना होता है | डोमेन नेम खरीदने के लिए आप चाहे तो गो डैडी, namecheap और होस्टिंगर जैसी वेबसाइट से डोमेन नेम खरीद सकते हैं | इसके बाद अगर आप कस्टम डोमेन अपने ब्लॉगर में भी डालना चाहते हैं | तो इस डोमेन नेम का उपयोग आप दोनों तरह की वेबसाइट में कर सकते हैं |

होस्टिंग किसे कहते हैं

अगर आप ब्लॉगर की वेबसाइट पर ब्लॉग बनाते हैं | तो यहां पर आपको ना ही डोमेन नेम खरीदने की जरूरत होती है | ना ही कोई होस्टिंग प्लान लेने की जरूरत होती है | लेकिन आप वर्डप्रेस पर काम करते हैं | तो इसके लिए आपको डोमेन नेम खरीदने के साथ ही साथ होस्टिंग प्लान भी खरीदना पड़ता है | जिस तरह से आप जब घर बनाना चाहते हैं तो आपको सबसे पहले जमीन खरीदनी होती है | और उसके बाद आपको घर बनवाना होता है | लेकिन अगर ब्लॉगर की बात करें | तो यहां पर आपको जमीन यानी की होस्टिंग लेने की कोई जरूरत नहीं पड़ती है | आप यूं समझ लीजिए कि आपको होस्टिंग फ्री में गूगल प्रोवाइड करता है |

लेकिन यहीं पर जब आप वर्डप्रेस पर वेबसाइट बनाने के लिए होस्टिंग लेते हैं | तो आपको जिस तरह से भाड़े के मकान में रेंट देना पड़ता है | उसी तरह से आपको यहां पर काम करने के लिए जगह दे दी जाती है | जिस पर कि आप अपनी वेबसाइट बनाते हैं | जिसके लिए आप को हर महीने कुछ ना कुछ चार्ज देने पड़ते हैं | लेकिन जब आप होस्टिंग प्लान लेते हैं | तो आप चाहें तो मंथली या फिर एनुअल प्लान ले सकते हैं |

और जब तक आपके प्लान की वैलिडिटी रहती है | तब तक आप काम कर सकते हैं | लेकिन जैसे ही आपके प्लान की वैलिडिटी खत्म होती है | आपको फिर से फीस देनी होती हैं | और उसके बाद आप की वैलिडिटी फिर से बढ़ जाती है | और आप कंटिन्यू काम कर सकते हैं | यह चीजें डोमेन और होस्टिंग दोनों में लागू होती हैं |

blog examples for students | ब्लॉगिंग करने से क्या फायदे हैं

अगर आप एक राइटर है, या फिर आपको लिखने का शौक है | आप अपने एक्सपीरियंस को, अपनी कहानी को लोगों के साथ शेयर करना चाहते हैं | तो आप एक ब्लॉगिंग वेबसाइट शुरू कर सकते हैं | और आसानी से लोगों तक अपनी जानकारी | अपने एक्सपीरियंस को शेयर कर सकते हैं | और लोगों की मदद भी कर सकते हैं |

निष्कर्ष

अगर आप ब्लॉगिंग शुरू करना चाहते हैं | आप इस चीज को लेकर कि कंफ्यूज है कि blog examples for students| आपको ब्लॉगिंग में शुरुआत करने के लिए | वर्डप्रेस में जाना चाहिए या फिर ब्लॉगर में जाना चाहिए | तो यह जानकारी आपके लिए काफी महत्वपूर्ण हो सकती है | आपकी काफी मदद भी कर सकती है आपके फैसले को निर्णय लेने के लिए | और आप काफी आसानी से चुन सकते हैं | कि आप वर्डप्रेस पर काम करना चाहते हैं या फिर ब्लॉगर पर |

उम्मीद है यह जानकारी (ब्लॉग को गूगल पर कैसे चालू करें) आपको पसंद आई होगी | अगर आपका कोई सवाल है तो आप हमसे पूछ सकते हैं | या फिर अगर आपकी कोई राय है, तो आप हमें कमेंट बॉक्स में दे सकते हैं | धन्यवाद |

releted topic :- वेब होस्टिंग हिंदी में मतलब

पिछला लेख5 Mistakes Entrepreneurs Make
अगला लेखyoutube channel ideas for beginners
janhvi shankar
janhvi shankarhttps://tiwariproduction.com
हेलो दोस्तों मैं janhvi shankar इस वेबसाइट का owner और founder हूं और इस वेबसाइट के माध्यम से हिंदी बायोग्राफी, बिजनेस टिप्स, वायरल न्यूज़ और बहुत सारी टेक्नोलॉजी से जुड़ी टिप्स शेयर करता हूं, नए लोगों को व्यवसाय के बारे में जानकारी देना हमारा मुख्य उद्देश्य है. साथ ही साथ मैं इस वेबसाइट पर इंटरनेट से जुड़ी जानकारी और blogging, WordPress की जानकारी भी शेयर करता हूं.

Related Articles

1 टिप्पणी

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Stay Connected

1,019फॉलोवरफॉलो करें
9,500सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें
- Advertisement -

Latest Articles