How to start Camphor making business कपूर बनाने का व्यापार

कपूर मैन्युफैक्चरिंग के बारे में, और यह जानेंगे Camphor making business किस राॅ मटेरियल की जरूरत पड़ती है. और किस तरह की मशीनों की जरूरत पड़ती है |

Start camphor making business in hindi ( कर्पूर बनाने का व्यवसाय कैसे शुरू करें

भारतीय संस्कृति में कपूर को विशेष महत्व दिया जाता है, कपूर की विशेषताएं वेदों में भी देखने को मिलती है | कपूर का इस्तेमाल भारत के सभी राज्यों में, पूजा पाठ करने में किया जाता है | साथ ही साथ इसे दवाइयों के रूप में भी इस्तेमाल किया जाता है |

हालांकि हम कपूर के व्यवसाय को शुरू करने के बारे में बात कर रहे हैं, कपूर का व्यवसाय शुरू करना बहुत ही आसान है, अगर आप एक नए बिजनेस की शुरुआत कर रहे हैं, तो यह व्यवसाय आपके लिए बहुत ही फायदेमंद हो सकता है | लेकिन किसी भी बिजनेस को स्टार्ट करने के पहले उसके बारे में कुछ जरूरी चीजें जान लेनी चाहिए | तो सबसे पहले यह जान लेते हैं, की कपूर बनता कैसे है | और हमें कपूर का बिजनेस स्टार्ट करने के लिए रॉ मैटेरियल का इस्तेमाल किस तरह से करना है |

कपूर कैसे बनता है

कपूर एक सफेद रंग का दिखाई देने वाला पदार्थ है | हालांकि यह सफेद रंग कपूर का वास्तविक रूप नहीं होता है | कपूर को Camphor नामक पेड़ से बनाया जाता है, यह पेड़ मुख्यतः भारत, चीन और जापान जैसे देशों में पाया जाता है | कपूर इसी Camphor नाम के पेड़, या इसी प्रजाति की अन्य लकड़ियों से बनाया जाता है | हालांकि आपको बता दें कि, अगर आप इस पेड़ के पास से गुजरेंगे तो आपको कपूर की गंध महसूस होती है |

camphor-making-tree.webp
camphor tree

कपूर का पाउडर बनाने के लिए सबसे पहले Camphor के पेड से टहनियों और डालियों को काट लिया जाता है, इसे काटने के बाद अच्छी तरह से सुखाया जाता है | लकड़ियों को अच्छी तरह से सूख जाने के बाद, उनकी टहनियों से हाल को अलग कर दिया जाता है | टहनियों से छाल को अलग करने के बाद, उन लकड़ियों को मशीन की सहायता से छोटे-छोटे टुकड़ों में काट लिया जाता है | उसके बाद लकड़ियों के इन छोटे-छोटे टुकड़ों को पानी के साथ मिलाकर भट्ठी में डाला जाता है,

जहां से यह अच्छी तरह पकने के बाद पेस्ट के रूप में परिवर्तित हो जाता है | पेस्ट मे बदलने के बाद इसमें से कपूर का तेल निकाला जाता है | और कपूर के सूखे भाग को, यानी कि कपूर के पाउडर को अलग कर लिया जाता है | हालांकि कपूर का यह पाउडर गीली अवस्था में होता है, इसलिए इसे अच्छी तरह सूखाया जाता है | अच्छी तरह सुखाने के बाद इसे कपूर के पाउडर के रूप में परिवर्तित किया जाता है | कपूर के पाउडर को मशीनों की सहायता से कपूर के छोटे-छोटे टेबलेट के रूप में बदल दिए जाते हैं |

Camphor tablet making business

हालांकि Camphor tablet making business की शुरुआत करने के लिए आपको बहुत ज्यादा सामग्री की आवश्यकता नहीं है | आपको जरूरत है कपूर के रॉ मैटेरियल, यानी कि कच्चे माल की, और कपूर बनाने वाली मशीन की | कपूर बनाने वाली मशीन कई प्रकार की आती है, जैसे कि पांच डाई की मशीन, छ: डाई की मशीन, या 10 और 12 डाई की मशीन, इसके अलावा स्लैस भी होते हैं |

Start camphor making raw materials कपूर बनाने का कच्चा माल

इस camphor making व्यवसाय को शुरू करने के लिए कपूर के रा मटेरियल के तौर पर कपूर का पाउडर, और हेक्सा माइन का इस्तेमाल किया जाता है |

camphor making process- हालांकि अगर आप कपूर का व्यवसाय शुरू करने जा रहे हैं, तो इसके बारे में सही जानकारी पता होनी चाहिए | और कपूर कैसे बनाया जाता है, इसका प्रोसेस क्या है, इसके बारे में सही जानकारी प्राप्त करने के लिए इसे सही तरह से जरूर समझ ले |

कपूर बनाने के लिए सबसे पहले कपूर के पाउडर (camphor raw materials) को वेंडर्स मशीन से precure जाता है | इसके बाद camphor powder में रिक्वायर्ड क्वालिटी में hexamine मिक्स किया जाता है, मिक्स होने के बाद camphor making machine में इस मटेरियल को डाला जाता है | camphor making machine मैं अटैच डाई की मदद से, camphor tablet तैयार कर ली जाती है | इसके बाद पैकिंग करने वाली मशीन के द्वारा पॉलिथीन में डालकर पैक किया जाता है, और इसे मार्केट में बेचने के लिए भेज दिया जाता है |

Camphor making business ke liye jagah

camphor-making-business.webp

हालांकि अब तक हम यह अच्छी तरह से समझ चुके हैं कि कपूर क्या होता है, और कपूर कैसे तैयार होता है, और कपूर बनाने के लिए किस तरह की मशीन की आवश्यकता होती है | अब यह भी जान लेते हैं कि कपूर बनाने का व्यवसाय चालू करने के लिए आपको किस तरह के जगह की जरूरत पड़ेगी, और कितनी जगह की आवश्यकता है तो चलिए जानते हैं |

हालांकि कपूर की टिकिया का बिजनेस शुरू करने के लिए आपको कम से कम 300 स्क्वायर फीट जगह की आवश्यकता होती है | साथ ही साथ आपको सभी मशीनों को सही तरीके से स्थापित करने के लिए कम से कम ढाई सौ स्क्वायर फीट जगह की आवश्यकता होती है |

camphor making plant and machinery

कपूर बनाने वाली मशीन दो क्वालिटी में आती है, जो क मैनुअल और ऑटोमेटिक दोनों आती हैं | इसलिए आप यहां पर देख सकते हैं कि, इन दोनों का क्या फीचर और मुल्य हैं |

लेकिन यह आपकी ऑटोमेटिक और सेमी ऑटोमेटिक प्लांट पर भी निर्भर करता है, और कोर प्लांट और मशीनरी, विविध उपकरण और अन्य छोटे बड़े उपकरण की आवश्यकता होती है |

Camphor making business assets

हालांकि कपूर के व्यवसाय को शुरू करने के लिए आपको कुछ जरूरी चीजें भी हैं, जिन की आवश्यकता आपको पड़ेगी जैसे-
• Electrical installation
• Power panel etc.
• Dg set
• Furniture & Fixtures for office purpose

camphor making business electricity required

इस व्यवसाय को शुरू करने के लिए लगभग 2 किलो वाट इलेक्ट्रिसिटी की भी आवश्यकता होती है | इसलिए जब भी आप इस व्यवसाय को शुरू करते हैं, तो अपने आसपास इस बात को जरूर निश्चित कर ले कि, आप इस व्यवसाय में उपयोग होने वाली मशीनों के लिए बिजली की व्यवस्था सही तरीके से कर पाएंगे |

Camphor making business manpower

इस व्यवसाय को शुरू करने के लिए आपको कम से कम तीन या चार man power यानी कि मजदूरों की भी आवश्यकता होगी | अगर आपके पास तीन या चार मजदूर हैं तो आप आसानी से इस Camphor making व्यवसाय को ऑपरेट कर सकते हैं | इस man power में एक ऑपरेटर, हुनर वाले और बिना हुनर वाले लेबर, एडमिन और मैनेजर आदि भी शामिल हो सकते हैं |

Camphor making material कहाँ से मगवाएं

हालांकि अगर आप इस Camphor making व्यवसाय को किसी बड़े शहर के आसपास खोलना चाहते हैं, तो इसके रॉ मैटेरियल बहुत ही आसानी से बाजार में मिल जाएंगे | लेकिन अगर आप किसी गांव में हैं, या फिर किसी छोटे शहर से हैं, जहां पर आपको कपूर बनाने का Camphor Raw Materials नहीं मिलता है, तो आप इसे ऑनलाइन भी खरीद सकते हैं |

Camphor Tablet Making Machine हालांकि जैसा कि हम पहले भी समझ चुके हैं, कि कपूर का टेबलेट बनाने वाली मशीन कई प्रकार की आती है, क्योंकि इन में अलग-अलग तरह के डाई लगे होते हैं | साथ ही साथ इनकी क्षमता भी अलग-अलग होती है | इसलिए यह विशेष रूप से निर्धारित नहीं किया जा सकता है, कि आप किस प्रकार की मशीनरी का उपयोग करना चाहते हैं | लेकिन अगर आप इसे ऑनलाइन खरीदना चाहते हैं, तो आप यहां पर कई प्रकार की मशीनों को देख सकते हैं | और उसके बाद आप यह तय कर सकते हैं, कि आपके लिए कौन सी मशीनरी ज्यादा फायदेमंद है | मशीनरी देखने के लिए यहां पर देखें Camphor Tablet Making Machine online |

Camphor making business License

हालांकि इस Camphor making व्यवसाय को शुरू करने के लिए आपको किसी विशेष लाइसेंस की आवश्यकता नहीं होती है | आप कुछ नॉर्मल डॉक्यूमेंट जैसे- जीएसटी, ट्रेडमार्क और उद्यम के साथ आसानी से इस व्यवसाय को शुरू कर सकते हैं |

Camphor Tablet Making business स्कीम

हालांकि इस प्रकार के जितने भी लघु उद्योग है, हर उद्योग में कोई ना कोई स्कीम जरूर मिलती रहती है, लेकिन इस उद्योग के लिए जो भी स्कीम उपलब्ध है, उनके नाम कुछ इस प्रकार हैं जैसे- प्रधानमंत्री मुद्रा योजना, प्रधान मंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम (पीएमईजीपी), standup india | हालांकि अगर आप इन स्कीम का लाभ उठाना चाहते हैं, तो यह स्कीम आपके निवेश और परियोजना के ऊपर निर्भर करती है कि, आप इस स्कीम का लाभ उठा पाएंगे या नहीं उठा पाएंगे | इन पर योजनाओं का लाभ लेने के लिए इनके बारे में विशेष रुप से समझ लें |

Camphor Making business के लाभ और फायदे

इस व्यवसाय को कम जगह में शुरू कर सकते हैं, इस व्यवसाय को कम निवेश में शुरू कर सकते हैं, इस व्यवसाय को बहुत ही कम कच्चे माल की आवश्यकता होती है, इसमें आप फायदा भी अधिक पा सकते हैं | हालांकि फायदा के बारे में विशेष बातें नहीं कही जा सकती हैं, क्योंकि यह सारी चीजें आपके निवेश और परियोजना के ऊपर निर्भर करती हैं | लेकिन अगर आप एक व्यवसाय शुरू करना चाहते हैं, तो आप इस व्यवसाय को आसानी से शुरू कर सकते हैं |

निष्कर्ष

आज की इस पोस्ट में हमने समझा कि हम कपूर बनाने का व्यवसाय किस तरह चालू कर सकते हैं | और कपूर बनाने के व्यवसाय में कौन-कौन से रॉ मटेरियल लगते हैं, इन रॉ मैटेरियल को हम कहां से खरीद सकते हैं | और इसमें किस तरह की मशीनरी का उपयोग किया जाता है | और इन मशीनरी को हम कहां से ले सकते हैं | उम्मीद है यह सारी जानकारी आपको समझ में आ गई होगी | अगर जानकारी अच्छी लगी तो इसे अपने दोस्तों के साथ भी शेयर करें | धन्यवाद |

इसे भी पढ़ेंसाबुन का व्यवसाय कैसे चालू करें
अगरबत्ती बनाने का व्यवसाय कैसे चालू करें

Sharing Is Caring:

Leave a Comment