EPFO: E Nomination दाखिल करने के फायदे, क्यों है जरूरी?

epfo: e nomination कर्मचारी भविष्य निधि संगठन के अंदर बहुत से लोगों को यह समस्या देखने को मिल रही है कि वह अपना पीएफ राशि नहीं निकाल पा रहे हैं

Epfo: e-Nomination कर्मचारी भविष्य निधि संगठन के आदेशानुसार ईपीएफओ के उपभोक्ता कर्मचारियों को ई नॉमिनेशन में register करना बहुत ही अनिवार्य है इसके लिए 31 दिसंबर का लास्ट डेट निर्धारित किया गया था इसके बावजूद बहुत सारे ईपीएफ धारी कर्मचारियों ने ई नॉमिनेशन नहीं करवाया जिसकी वजह से बहुत सारे कर्मचारियों की ईपीएफ निधि निकालने में बहुत समस्या आ रही है इसी वजह से बहुत सारे कर्मचारियों को अपना इपीएफ बैलेंस चेक करने में भी समस्या हो रही है

पीएफ कर्मचारियों को होने लगी e-nomination में समस्या

जिन लोगों ने अभी तक EPF account के अंदर अभी तक ईपीएफ की नॉमिनेशन नहीं करवाई थी उनके लिए इपीएफ नॉमिनेशन एक समस्या बनता जा रहा है क्योंकि जब तक आप पी एफ ओ ई नॉमिनेशन नहीं करवा लेते हैं तब तक ना तो आप अपने ईपीएफओ अकाउंट का बैलेंस चेक कर सकते हैं और ना ही अपने ईपीएफओ बैलेंस को किसी भी तरह से ट्रांसफर कर सकते हैं ना ही विड्रोल कर सकते हैं एक तरह से देखा जाए तो ईपीएफओ नॉमिनेशन करवाना अब अनिवार्य हो चुका है

epfo-e-nomination.webp

Epfo: e Nomination के फायदे बहुत सारे epfo यानी भविष्य निधि कर्मचारी संगठन के उपयोगकर्ता इस बात को लेकर बहुत ही परेशान है और उनके मन में यह भी सवाल है कि आखिर e nomination करवाने से उनको क्या फायदा होने वाला है तो इसके लिए हम आपको बता दें कि आप चाहे या ना चाहे लेकिन आपको ईपीएफओ नॉमिनेशन करवाना बहुत ही अनिवार्य हो चुका है भारत सरकार के निर्देशानुसार हर पीएफ उपभोक्ता को अपना ईपीएफओ नॉमिनेशन करवाना ही होगा और जब तक आप ईपीएफओ नॉमिनेशन नहीं करवा लेते हैं तब तक आप ईपीएफ निधि को ना ही चेक कर सकते हैं और ना ही निकाल सकते हैं

हालांकि अगर ईपीएफओ नॉमिनेशन से होने वाले फायदे की बात की जाए तो इसमें आपको बहुत सारे फायदे मिलने वाले हैं जैसे कि

  • E Nomination करने का फायदा यह है की नॉमिनेशन करने के बाद आप अपने खाता से संबंधित सभी जानकारी प्राप्त कर सकते हैं
  • दूसरा फायदा यह है की कर्मचारी भविष्य निधि संगठन को यह पता चलता है कि आप का एक परिवार भी है जो कि आप से संबंधित है
  • यदि आपके साथ कोई दुर्घटना होती है तो आपके ईपीएफओ नॉमिनेशन में डाले गए नॉमिनी के द्वारा आप की निधि निकालने में आसानी होती है
  • ई नॉमिनेशन योजना के तहत आपको (EPS) employee pension scheme का भी लाभ प्राप्त होता है
  • साथ ही साथ (EDLI) एम्पलाई डिपॉजिट लिंक्ड इंश्योरेंस स्कीम का भी लाभ प्राप्त होता है

हालांकि ईपीएफओ की गाइडलाइंस के अनुसार अगर आप ईपीएफओ में नॉमिनी नहीं डालते हैं तो आप किसी भी तरह का क्लेम सेटल नहीं कर सकते हैं किसी भी क्लेम को सेटल करने से पहले या फिर अपने पीएफ बैलेंस को चेक करने के लिए आपको ही नॉमिनेशन की आवश्यकता जरूर पड़ेगी अगर आप e nomination नहीं करवाते हैं तो हो सकता है कि अभी तक आपके साथ यह समस्या ना आई हो लेकिन आने वाले समय में आपके साथ भी यह समस्या हो सकती है इसलिए ईपीएफओ को नॉमिनेशन करवाना बहुत ही जरूरी है

EPFO nomination document हालांकि अगर आप ईपीएफओ भविष्य निधि कर्मचारी संगठन के उपभोग करता है और अभी तक आपने अपने ईपीएफओ अकाउंट के अंदर ई नॉमिनेशन नहीं करवाया है और आप ईपीएफओ नॉमिनेशन भरना चाहते हैं तो इसके लिए आपको कुछ डॉक्यूमेंट की भी आवश्यकता होगी जो कि इस प्रकार से हैं

  • नॉमिनी का नाम
  • नॉमिनी का आधार नंबर
  • नॉमिनी का पता
  • नॉमिनी की फोटो
  • नॉमिनी का बैंक अकाउंट नंबर और आई एफ एस सी कोड

ईपीएफओ अकाउंट में नॉमिनी कैसे जोड़ें

अपने इपीएफ अकाउंट में नॉमिनी जोड़ने के लिए सबसे पहले ईपीएफओ के मेंबर सर्विस पोर्टल UAN की uan member home वेबसाइट पर जाएं इस वेबसाइट पर जाने के बाद सबसे पहले अपने यूएएन नंबर और पासवर्ड के द्वारा लॉगिन करें आपकी मेंबर पोर्टल के डेस बोर्ड पर एलॉगइन होते ही सबसे पहले ई नॉमिनेशन फाइल का भी ऑप्शन आता है आप डायरेक्ट वहां से fill now की ऑप्शन पर क्लिक करके ई नॉमिनेशन में नॉमिनी का नाम जोड़ सकते हैं

e-nomination.webp

दूसरा तरीका यह है की अगर आपके पास यह ऑप्शन नहीं दिखाई देता है तो आप सबसे पहले यूएएन अकाउंट के डैशबोर्ड में मैनेज के ऑप्शन पर क्लिक करें मैनेज के ऑप्शन पर क्लिक करने के बाद आपके सामने ही नॉमिनेशन का ऑप्शन दिखाई देता है इस बटन पर क्लिक करें इसके बाद आप के सामने हैविंग ए फैमिली का ऑप्शन दिखाई देता है सबसे पहले इस बटन पर क्लिक करें इस बटन पर क्लिक करने के बाद आपके सामने ई नॉमिनेशन फॉर्म खुलकर आ जाता है

e-nomination-form.webp

ई नॉमिनेशन फॉर्म कैसे भरें ई नॉमिनेशन फॉर्म भरने के लिए सबसे पहले कॉलम में आधार नंबर पूछा जाता है इस कॉलम में नॉमिनी का आधार नंबर डालें दूसरे कॉलम में नॉमिनी का नाम डालें तीसरे कॉलम में नॉमिनी का डेट ऑफ बर्थ डालें इसके बाद gender सेलेक्ट करें अगर लड़का है तो मेल डालें अगर लड़की है तो फीमेल डालें इसके बाद रिलेशन यानी कि जिसका नाम आप नॉमिनी में डाल रहे हैं उसका आप से क्या संबंध है इसके बाद नॉमिनी का पूरा पता डालें पूरा पता डालने के बाद नॉमिनी का फोटो अपलोड करें ध्यान रखें कि नॉमिनी की फोटो 100 kb के अंदर होनी चाहिए इसके बाद सेव कर दें

people also read वोटर आईडी कार्ड डुप्लीकेट कैसे बनवाएं

हालांकि अगर आप पहले से किसी को नॉमिनी में जोड़ चुके हैं लेकिन आपने कुछ गलत डाल दिया है तो इसके लिए भी इस प्रोसेस को फॉलो करके फिर से जोड़ सकते हैं और जो भी पहले के डाटा को आप सेव कर चुके हैं वह सारा डाटा नीचे दिखाई देता है आप उसे डिलीट कर सकते हैं और नया डाटा ऐड कर सकते हैं इस तरह से आप पुराने नॉमिनी का भी करेक्शन कर सकते हैं

अगर आप ईपीएफओ उपभोग करता है तो आपको ई नॉमिनेशन जरूर करवा लेना चाहिए क्योंकि बहुत सारे उपयोगकर्ताओं को अब समस्या आने शुरू हो गई है आप इस स्टेप को फॉलो करके काफी आसानी से अपने इपीएफ अकाउंट के अंदर e nomination जोड़ सकते हैं

निष्कर्ष

इस पोस्ट में हमने समझा ईपीएफओ नॉमिनेशन क्यों जरूरी है और ईपीएफओ नॉमिनेशन कैसे करवा सकते हैं उम्मीद है यह जानकारी अच्छी लगी होगी अगर ईपीएफओ नॉमिनेशन से जुड़ा कोई भी सुझाव है तो हमें अपनी राय कमेंट बॉक्स में देना ना भूलें धन्यवाद

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here