फ्रीलांसिंग बिज़नेस आइडिया


दोस्तों आज के इस आर्टिकल में हम जानेंगे कि, फ्री लॉन्चिंग क्या होते हैं |
कैसे करते हैं | और फ्रीलांसिंग बिज़नेस को स्टार्ट करने के क्या फायदे होते हैं |
और इसे हम किस तरह से स्टार्ट कर सकते हैं |
चलिए जानते हैं, के बारे में |

फ्रीलांसिंग बिज़नेस क्या है

फ्रीलांसिंग बिज़नेस का मतलब है,
अपनी मर्जी का समय | यानी कि आप जब चाहे तब यहां पर काम कर सकते हैं |
आपको समय की कोई पाबंदी नहीं होती है |
अपनी मर्जी का काम- यानी कि आप जो चाहे, तब यहां पर काम कर सकते हैं |
और जब चाहे तब छोड़ सकते हैं | आपको जो काम पसंद है, आप वही काम कर सकते हैं |
आपको कोई जबरदस्ती नहीं है, अगर आपको काम पसंद आता है तभी आप काम करें |

फ्रीलांसिंग बिज़नेस आइडिया

अपनी मर्जी का दाम-यानी कि यहां पर आप को सैलरी कि कोई टेंशन नहीं है |
उदाहरण में, आप जब भी किसी कंपनी में काम करते हैं |
तो यहां पर आपको एक फिक्स सैलरी मिलती है |
और आपकी मर्जी के मुताबिक आपको दाम भी नहीं मिलता है |
लेकिन यहां पर आपको ऐसी कोई पाबंदी नहीं है |

आप जब भी फ्रीलांसिंग बिज़नेस करते हैं | तो आप जो भी काम चालू करते हैं,
उस काम का अपनी मर्जी के मुताबिक दाम रख सकते हैं |
अगर आपकी मर्जी का दाम आपको नहीं मिलता है, तो आपके ऊपर कोई पाबंदी नहीं है |
कि आप उस काम को करिए |

फ्रीलांसिंग बिज़नेस के अहम कारण

फ्रीलांसिंग बिज़नेस के बिजनेस में, आप महीने के नहीं |
दिन के नहीं | आप घंटे के हिसाब से भी काम कर सकते हैं |
आपको इस चीज की इंतजार करने की जरूरत नहीं है,
कि आपको 8 घंटे काम करना है | तभी आपकी पूरी सैलरी मिलेगी |
आप चाहे तो हर घंटे के हिसाब से भी यहां पर काम कर सकते हैं |

Freelancing

अपनी पसंद की जगह-कई बार क्या होता है, कि जब भी आप कोई काम करते हैं |
किसी ऑफिस में जाते हैं, या फिर किसी कंपनी में जॉब करते हैं |
तो ऐसे में आपको आपकी पसंद की जगह नहीं मिलती है |
आपको मजबूरी बस वहां पर काम करना पड़ता है |
लेकिन यहां पर इस तरह की कोई समस्या नहीं है |
आप उसको अपने घर से या फिर, कहीं बाहर से भी ऑपरेट कर सकते हैं |
आपको किसी ऑफिस जाने की जरूरत नहीं |
आप चाहें तो घर बैठे आसानी से फ्रीलांसिंग बिज़नेस स्टार्ट कर सकते हैं |

दुनिया लेगी आपका नाम-अगर आप किसी कंपनी में जॉब करते हैं |
या फिर कहीं पर भी कोई नौकरी करते हैं |
तो यहां पर आपको 12 घंटे या 8 घंटे काम करने के बावजूद,
आप की कोई इज्जत नहीं होती है | लोग सिर्फ यही समझते हैं,
कि आप वह व्यक्ति हैं जो ऑफिस में काम करते हैं |
और सिर्फ एक वर्कर हैं, जबकि फ्री लॉन्चिंग बिजनेस को करने के बाद |
आपको लोग इज्जत की नजरों से भी देखेंगे | और आपका नाम भी होगा,
कि आप फ्रीलांसिंग बिज़नेस से किस तरह सफल हुए हैं |

फ्रीलांसिंग बिज़नेस आइडिया के निर्देश

फ्रीलांसिंग बिज़नेस आइडिया

हालांकि जब भी आप किसी बिजनेस को स्टार्ट करते हैं |
तो आपके मन में यह सवाल आता है | कि हम अकेले इस बिजनेस को कैसे शुरू करेंगे,
हमें किसी न किसी की तो जरूरत पड़ेगी |
लेकिन यहां पर आपको किसी भी बिजनेस पार्टनर की जरूरत नहीं है |
आप इस बिजनेस को स्टार्ट करने के लिए खुद ही काफी हैं |
और आप अकेले ही इस बिजनेस को स्टार्ट कर सकते हैं |
और इसे आसानी से संभाल सकते हैं |

फ्रीलांसिंग बिज़नेस  के फायदे

हालांकि फ्रीलांसिंग बिजनेस को करने के अपने ही फायदे हैं |
क्योंकि जब आप किसी भी किसी बिजनेस को स्टार्ट करते हैं |
तो बिजनेस को स्टार्ट करने के लिए आपको जगह देखनी पड़ती है |

उसके बाद आपको ऑफिस खोलना पड़ता है |
उसके बाद ऑफिस जाने के लिए ड्रेस कौन सी पहनी है |
आपको ट्रैवल करके ऑफिस जाना पड़ता है |
उसके बाद क्लाइंट को किस तरह से मैनेज करना है |
अपने बिजनेस को किस तरह से मैनेज करना है |
इन सारी चीजों का ध्यान रखना पड़ता है |

जबकि फ्रीलांसिंग बिज़नेस को करने के लिए,
आपको कहीं ट्रेवलिंग करने की जरूरत नहीं है |
आपको कहीं पर इन्वेस्ट करने की जरूरत नहीं है |
आपको किसी ड्रेस की जरूरत नहीं है | आप आसानी से किसी भी हालात में
और किसी भी जगह पर, अपने बिजनेस को आसानी से मैनेज कर सकते हैं |

फ्रीलांसिग बिजनेस को कैसे स्टार्ट करें


स्टार्ट करने को लेकर, बहुत सारे लोगों को कन्फ्यूजन रहता है |
कि हम फ्री लासिंग बिजनेस को कैसे स्टार्ट करें | तो आज हम आपको बताएंगे कि,
फ्री लॉन्चिंग बिजनेस को स्टार्ट करने के लिए तीन चीजें बहुत जरूरी है |
अगर आप तीन चीजों को अच्छी तरह से समझ लेते हैं |
तो आपको इस बिजनेस को स्टार्ट करने के लिए काफी आसानी होगी |

फ्रीलांसर बनाने के 3 सूत्र


जो आपको आता है– यानी कि आपको अपनी अंदर यह देखना है |
कि आपको कौन सी चीजें हैं, जो बहुत अच्छी तरह से आती हैं |
आप उन चीजों को काफी आसानी से कर सकते हैं |


आपको क्या अच्छा लगता है- यानी कि अब ऐसा नहीं है,
कि आपको जो भी चीजें आती हैं | आप सारे काम को करना स्टार्ट कर दें |
आपको जो भी चीजें आती हैं, उनमें से आप को सबसे ज्यादा अच्छा क्या लगता है |
आप क्या करना पसंद करते हैं | आपको इस चीज को डिसाइड करना होगा |
जब आप ही चीज को डिसाइड कर लेते हैं | तो आप इन दो स्टेप्स को पूरे कर चुके हैं |


बाजार क्या चाहता है– आपने यह तो डिसाइड कर लिया कि, आपको क्या आता है |
और आपको क्या अच्छा लगता है | लेकिन आप को सबसे ज्यादा जरूरी
और आखिरी स्टेप्स भी ध्यान देना होगा, कि मार्केट में क्या चल रहा है |
आखिर बाजार क्या चाहता है | जब आप इन तीनों चीजों को डिसाइड कर लेते हैं,
तो अब आप पूरी तरह से तैयार हो चुके हैं |

अपने फ्रीलांसिंग बिज़नेस को चालू करने के लिए यह तीन चीजें आपको हमेशा आगे बढ़ने में मदद करेंगे


क्योंकि अगर आप अपनी मर्जी के अनुसार, फ्रीलांसिंग बिज़नेस को स्टार्ट करते हैं |
तो हो सकता है, कि आपका बिजनेस आगे चलकर बंद हो जाए |

इसलिए जब भी आप अपने फ्रीलांसिंग बिजनेस को स्टार्ट करें |
तो स्टार्ट करने से पहले यह जरूर देख लें, कि मार्केट में क्या चल रहा है |

आखिर बाजार आपसे चाहता क्या है, लोग पसंद क्या करते हैं |
आपको अपनी पसंद के साथ-साथ, अपनी काबिलियत के साथ साथ,
लोगों की जरूरत भी देखनी है | तभी आप इस बिज़नेस में सक्सेज हो सकते हैं |

फ्रीलांसिंग बिज़नेस में सफल होने के 3 सूत्र

फ्रीलांसिंग बिज़नेस के फायदे- प्रोजेक्ट Quality

आप जिस प्रोजेक्ट को लेते हैं | आप उस प्रोजेक्ट को जितनी बेहतर क्वालिटी में तैयार कर सकते हैं |
आपको उसे उतनी बेहतर क्वालिटी में तैयार करना है |
क्योंकि अगर आप किसी भी प्रोजेक्ट को बहुत जल्दबाजी नहीं करते हैं |

और अगर आप बढ़िया क्वालिटी का प्रोजेक्ट नहीं देते हैं |
तो यह आगे चलकर आपके लिए एक समस्या बन जाएगी |
और आप की रेटिंग कम हो जाएगी, जिससे कि आपका फ्रीलांसिंग बिज़नेस डाउन हो सकता है |

क्लाइंट कॉस्ट

आप जब भी किसी प्रोजेक्ट को लेते हैं, और उस पर काम करना स्टार्ट करते हैं |
इस प्रोजेक्ट को लेने से पहले आपको इस चीज का ध्यान देना है |
कि आप फ्रीलांसिंग बिज़नेस में जिस प्रोजेक्ट को ले रहे हैं |

कहीं ऐसा तो नहीं कि, आपने उसका बहुत ज्यादा कॉस्ट,
अपने क्लाइंट के ऊपर डाल दिया है| जिससे कि आपका क्लाइंट ज्यादा दुखी हो गया है |

जो कि उसे वही प्रोजेक्ट कम कॉस्ट में तैयार होकर मिल रहा था |
इसलिए जब भी आप किसी प्रोजेक्ट को लें, तो यह जरूर ध्यान रखें |
कि कहीं आपने बहुत ज्यादा कॉस्ट तो नहीं चार्ज कर दिया है |

क्लाइंट के टाइम पर प्रोजेक्ट देना

जब भी आप किसी प्रोजेक्ट को लेते हैं | तो आपको क्वालिटी
और कॉस्ट के साथ-साथ यह भी ध्यान देना है |
कि कहीं आप इस प्रोजेक्ट को पूरा करने में बहुत ज्यादा समय तो नहीं लगा रहे हैं |

क्योंकि अगर आप किसी भी प्रोजेक्ट को लेते हैं,
और अगर इस प्रोजेक्ट को पूरा करने में बहुत अधिक समय लगाते हैं |
तो ऐसे में इस प्रोजेक्ट की वैल्यू खत्म हो जाती है |

और आप नियमित टाइम पूरा होने के बाद इस प्रोजेक्ट को देते हैं |
तो आपका क्लाइंट आपको छोड़कर, किसी और से अपनी प्रोजेक्ट को पूरा करवाने लगता है |
जिससे कि आपकी फ्रीलांसिंग बिज़नेस की वैल्यू खत्म हो जाती है |
और आपका क्लाइंट भी आपको छोड़ कर चला जाता है |
इसलिए आपको किसी भी प्रोजेक्ट को टाइम पर पूरा करना है |

निष्कर्ष

बहुत सारे लोगों को यह कन्फ्यूजन रहता है |
या फिर बहुत सारे लोग फ्रीलांसिंग बिज़नेस को स्टार्ट तो कर लेते हैं |
लेकिन वह सक्सेज नहीं हो पाते हैं | लेकिन इसमें क्या कारण होते हैं,
इस चीज को नहीं समझ पाते हैं |
इसलिए अगर आप भी फ्रीलांसिंग बिज़नेस को स्टार्ट करना चाहते हैं,
या फिर स्टार्ट कर चुके हैं |

तो आप इस चीज का हमेशा ध्यान रखें |
अगर आप इन चीजों को अच्छी तरह से समझ लेते हैं |
और इसके बाद से आप अपने फ्रीलांसिंग बिज़नेस में स्टार्ट करते हैं |
तो आपको सफलता अवश्य मिलेगी |
अगर आपको या आर्टिकल फ्रीलांसिंग बिज़नेस आइडिया पसंद आया |
तो इसे अपने दोस्तों और फैमिली के साथ जरूर शेयर करें, धन्यवाद |

Leave a Comment