Lic की मनी बैक पॉलिसी हर 5 साल में रिटर्न और सम एश्योर्ड भी

एलआईसी की इस मनी बैक पॉलिसी में हर 5 साल में रिटर्न मिलता है और मैच्योरिटी पूरा होने के बाद sum assured भी वापस मिल जाता है इस पॉलिसी का प्लान नंबर 921 है

मनी बैक पॉलिसी | एलआईसी मनी बैक प्लान क्या है?

एलआईसी का मनी बैक प्लान एक non linked with profit limited premium payment plan है यह 25 साल का प्लान है यानी कि इस प्लान का पॉलिसी पीरियड 25 वर्ष का है और जैसा कि यह एक लिमिटेड प्लान है इसलिए इसकी प्रीमियम का भुगतान सिर्फ 20 वर्ष करना होता है और जिस तरह से नॉन लिंक प्लान है यानी कि शेयर मार्केट से जुड़ा हुआ नहीं है इसलिए शेयर मार्केट के उतार-चढ़ाव से इस पर किसी भी प्रकार का फर्क नहीं पड़ता है यह प्रॉफिट के साथ आता है यानी कि एलआईसी अपने फाइनेंसियल ईयर के मुनाफे का प्रॉफिट पॉलिसी धारक के साथ शेयर करती है

lic-की-मनी-बैक-पॉलिसी-921.webp

LIC की मनी बैक पॉलिसी elegblity/cretaria

  • इस पॉलिसी को लेने के लिए कम से कम उम्र 13 साल निर्धारित की गई है यहीं पर यदि ज्यादा से ज्यादा उम्र की बात की जाए तो इस पॉलिसी को 45 साल से ज्यादा की उम्र के लोग नहीं ले सकते हैं
  • इस पालिसी कि ज्यादा से ज्यादा मैच्योरिटी एज 70 वर्ष निर्धारित की गई है
  • इस पॉलिसी का term 25 साल है
  • इस पॉलिसी का premium payment term 20 वर्ष है
  • इस पॉलिसी का मिनिमम सम एश्योर्ड ₹100000 निर्धारित किया गया है
  • इस पॉलिसी के मैक्सिमम सम एश्योर्ड की कोई लिमिट निर्धारित नहीं की गई है जिसे x5000 के अनुरूप लिया जा सकता है हालांकि यह व्यक्ति के आमदनी के ऊपर निर्भर करता है कि वह ज्यादा से ज्यादा कितने की पॉलिसी ले सकता है

मनी बैक पॉलिसी Riders

  • एलआईसी की इस मनी बैक पॉलिसी में राइडर की सुविधा भी उपलब्ध है किसी भी पॉलिसी में राइडर की सुविधा यानी कि अतिरिक्त बेनिफिट जिसे कोई भी पॉलिसी धारक पॉलिसी के अलावा अतिरिक्त चार्ज देकर ले सकता है एलआईसी की पॉलिसी में चार प्रकार के राइडर उपलब्ध है
  • accidental death and disability Rider
  • accident benefit rider
  • new term assurance rider
  • new critical illness benefit rider

मनी बैक पॉलिसी grace period

  • किसी भी पॉलिसी के ग्रेस पीरियड का मतलब यह होता है कि उस पॉलिसी का प्रीमियम जमा करने के लिए कंपनी के द्वारा दिया जाने वाला अतिरिक्त समय जो कि अलग-अलग प्रीमियम पेमेंट टर्म के अनुसार निर्धारित किया जाता है और इस अतिरिक्त समय के दौरान भी पॉलिसी का कवरेज बना रहता है और यदि कोई डेथ क्लेम आता है तो एलआईसी इसका भुगतान भी करती है
  • यदि पॉलिसी धारक प्रीमियम पेमेंट के लिए वार्षिक अर्द्धवार्षिक या त्रैमासिक समय का चुनाव करता है तो यहां पर उसे पॉलिसी का पेमेंट करने के लिए 30 दिन का अतिरिक्त समय दिया जाता है
  • यदि पॉलिसी धारक मासिक प्रीमियम पेमेंट का चुनाव करता है तू उसे पॉलिसी का पेमेंट करने के लिए अतिरिक्त समय 15 दिन का दिया जाता है

revival of policy (मनी बैक पॉलिसी दोबारा चालू करना) : इसका मतलब यह होता है कि यदि कोई पॉलिसी धारक कुछ समय तक प्रीमियम भरने के बाद premium payment करना बंद कर देता है और इसकी वजह से पॉलिसी बंद हो जाती है तो इसे दोबारा चालू करना इस पॉलिसी में पॉलिसी को दोबारा चालू करने की सुविधा भी उपलब्ध है जिसे 5 वर्ष के अंदर प्रीमियम के साथ-साथ इंटरेस्ट का भुगतान करके शुरू कर सकते हैं

हमें इंस्टाग्राम पर फॉलो करें

Paid-up value : इसका मतलब यह होता है कि यदि कोई भी पॉलिसी धारक 2 वर्ष तक प्रीमियम भरने के बाद इस पॉलिसी कभी नहीं भरना बंद कर देता है तो भी इस पॉलिसी की कवरेज बंद नहीं होती है बल्कि यह कम सम एश्योर्ड के साथ चालू रहती है

Surrender of policy : यदि कोई भी पॉलिसी धारक इस पॉलिसी को लेता है और बीच में सरेंडर करना चाहता है तो 2 साल या 2 साल से अधिक प्रीमियम का पेमेंट करने के बाद सरेंडर कर सकता है लेकिन आपकी जानकारी के लिए बता दें कि किसी भी पॉलिसी को सरेंडर करने के बाद पॉलिसी धारक को नुकसान नहीं उठाना पड़ता है इसलिए पॉलिसी लेते समय इस बात को सुनिश्चित करने कि आप कितने प्रीमियम का पेमेंट आसानी से भर सकते हैं जिससे कि आपको कभी भी पॉलिसी के बीच में सरेंडर करने की आवश्यकता ना पड़े

मनी बैक पॉलिसी loan facility : एलआईसी की इस पॉलिसी के साथ लोन की सुविधा भी मिलती है जिसे पॉलिसी धारक 2 वर्ष या उससे अधिक का प्रीमियम पेमेंट करने के बाद कभी भी ले सकता है लोन का अमाउंट सेरेंडर वैल्यू के ऊपर निर्धारित होता है जिसके हिसाब से in-force policy सरेंडर वैल्यू के लिए 90% मिलता है और paid up value policy के लिए सरेंडर वैल्यू का 80% मिलता है

मनी बैक पॉलिसी tax benefits : एलआईसी की इस पॉलिसी के अंतर्गत टैक्स बेनिफिट देखने को मिलता है जिसमें 80c और भुगतान के समय 10c के अंतर्गत टैक्स बेनिफिट प्राप्त किया जा सकता है एलआईसी की इस पॉलिसी के साथ हर 5 साल में मनी बैक प्राप्त किया जा सकता है जो सम एश्योर्ड के अनुरूप निर्धारित किया जाता है

इसे भी पढ़ें : Lic money back policy 20% मनी बैक के साथ मैच्योरिटी भी

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here