YouTube advanced settings channel keywords

आज की पोस्ट में हम जानेंगे यूट्यूब चेक लिस्ट के बारे में | अगर आप अपना एक युटुब चैनल खोलना चाहते हैं |
अगर आप अपना कंटेंट क्रिएट करना चाहते हैं | या फिर YouTube का इस्तेमाल करके आप वीडियो मार्केटिंग करना चाहते हैं | चाहे वह खुद के लिए हो, या फिर किसी क्लाइंट के लिए |

तो अगर आप एक नया यूट्यूब चैनल चालू करना चाहते हैं | तो उसके लिए आपकी चेक लिस्ट क्या होगी | या फिर वह कौन सी चीजें हैं | जो आपको शुरुआती समय में जरूरत होगी | इन सारी चीजों को अच्छी तरह से समझने के बाद | और इन सारी चीजों को इकट्ठा करने के बाद | आप एक अपना नया यूट्यूब चैनल चालू कर पाएंगे | और अच्छी ग्रोथ का पाएंगे | तो चलिए जानते हैं YouTube advanced settings channel keywords के बारे में |

YouTube advanced settings channel keywords | अपना niche चुनें

आपको यूट्यूब चैनल स्टार्ट करने से पहले, जो सबसे पहली चीज जाती है, वह है आपका नीच |

YouTube-advanced-settings-channel-keywords.webp
YouTube advanced settings channel keywords

अब यहां पर सवाल आता है कि, नीच क्या होता है | नीच का मतलब यह होता है कि, आप किस जोनरे में, किस सब्जेक्ट पर | आप वीडियो बनाना चाहते हैं | सरल भाषा में कहें नीच का मतलब यही होता है कि, आप किस सब्जेक्ट के ऊपर वीडियो बनाना चाहते हैं | इसलिए सबसे पहले आपको यह जानना जरूरी है |

यह समझना जरूरी है, कि आप किस सब्जेक्ट के ऊपर वीडियो बनाना चाहते हैं | जैसे कि आप किसी फूड के ऊपर वीडियो बनाना चाहते हैं | या फिर कोई टेक्नोलॉजी से रिलेटेड वीडियो बनाना चाहते हैं | या फिर कोई गाने से रिलेटेड वीडियो बनाना चाहते हैं | तो सबसे पहले आपको यह फाइंड करना होगा कि, आपका नीच क्या होना चाहिए |

या फिर आप कोई फैशन रिलेटेड वीडियो बनाना चाहते हैं | या फिर आप कोई स्टाइल रिलेटेड वीडियो बनाना चाहते हैं | या फिर आप कोई product review का वीडियो बनाना चाहते हैं | इसी तरह के बहुत सारे सब्जेक्ट है, जिन सब्जेक्ट के ऊपर आप वीडियो बनाना चाहते हैं | पहले उस सब्जेक्ट को, उस नीच को ढूंढना होगा |

YouTube Checklist | Create YouTube channel

जब आप अपना नीच सेलेक्ट कर लेते हैं | तो यहां पर दूसरे नंबर पर आता है, हमारे यूट्यूब चैनल को क्रिएट करना | अब यूट्यूब चैनल को क्रिएट करने के लिए, क्या चीजें जरूरी है | बहुत ही बेसिक चीजें, मैं आपको बता देता हूं | जिससे कि आप को समझने में काफी आसानी होगी |

अपने youtube channel को स्टार्ट करने के लिए | सिर्फ एक ईमेल आईडी और मोबाइल नंबर के द्वारा, अपना चैनल बना सकते हैं | आप सिर्फ अपनी एक ईमेल के द्वारा ( जिसको आप लोग जीमेल के नाम से भी जानते हैं)
अपना यूट्यूब अकाउंट बना सकते हैं | और अपने फोन नंबर के द्वारा, अपने यूट्यूब चैनल को वेरीफाई भी करवा सकते हैं |

साथ ही साथ आपको एक अच्छा इंटरनेट कनेक्शन | और वीडियो एडिट करने के लिए एक अच्छा सॉफ्टवेयर होना चाहिए | अगर आपके पास कंप्यूटर या लैपटॉप है, तो अच्छी बात है | अगर नहीं भी है तो आप अपने मोबाइल के द्वारा भी, अपने यूट्यूब चैनल को मैनेज कर सकते हैं |

YouTube Checklist | Branding your acount

जब आप अपना यूट्यूब चैनल बना लेते हैं | तो चैनल बनाने के बाद, सबसे पहले आपको ब्रांडिंग के ध्यान देना चाहिए | क्योंकि एक समय के बाद, अगर आप का चैनल काफी अच्छी तरह से चलने लगता है | आपका चैनल काफी पॉपुलर हो जाता है | तो आप भी यही चाहेंगे कि लोग आपको आपके नाम से जाने | इसलिए आपको अपने चैनल का ब्रांडिंग जरूर करना चाहिए | और चैनल का ब्रांडिंग करने के लिए कौन-कौन सी चीजें जरूरी है, यह जान लेते हैं |

आपको अपने चैनल का ब्रांडिंग करने के लिए एक लोगो, एक चैनल आर्ट, और एक चैनल का बैनर बहुत जरूरी होता है | जिससे कि जब लोग आपके चैनल पर आते हैं | आपके चैनल का ब्रांडिंग देख कर के ही, बहुत सारी चीजें साफ हो जाती हैं | कि आपका चैनल, आपके ऑडियंस को किस सब्जेक्ट पर | या किस टॉपिक पर वीडियो देने वाला है |

इसलिए आपको अपने चैनल की ब्रांडिंग जरूर करनी चाहिए | अगर आप अपने चैनल को, अपनी कंपनी के लिए इस्तेमाल करना चाहते हैं | या फिर अगर आप यह चाहते हैं, कि आपके चैनल का ब्रांड | लोगों के दिमाग पर ज्यादा लंबे समय तक रहे | लोग खाली आपको, आपके ब्रांड के नाम से पहचाने | तो आपको अपने चैनल को ब्रांड जरूर बनाना चाहिए |

YouTube Checklist | advanced settings channel keywords

YouTube advanced settings channel keywords जब आप अपने चैनल का ब्रांडिंग कर लेते हैं | तो आपको अपने अकाउंट का Optimisation जरूर करना चाहिए | जो कि आपके लिए बहुत ही जरूरी होता है | अगर आप चाहते हैं, कि आपका चैनल काफी तेजी से ग्रो करें | आपके चैनल की ग्रोथ, जल्दी से जल्दी हो | तो आपको अपने अकाउंट का ऑप्टिमाइजेशन जरूर करना चाहिए |

YouTube advanced settings channel keywords आपके चैनल को या फिर, आपकी वीडियो को सर्च रिजल्ट में आने के लिए | सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन का, जरूर ध्यान देना चाहिए | इसके अंदर बहुत सारी चीजें आती हैं | जैसे कि आपके चैनल का कीवर्ड, आपके चैनल का टैग, अपने किसी दूसरे चैनल को लिंक करना,
अपने चैनल का डिस्क्रिप्शन लिखना | और अपने वेबसाइट को, या फिर अपने और सोशल मीडिया नेटवर्क को, अपने यूट्यूब चैनल से अटैच करना आदि |

YouTube advanced settings channel keywords| टॉपिक रिसर्च

YouTube advanced settings channel keywords हालांकि हो सकता है कि, आप इस टॉपिक पर थोड़े से कंफ्यूज हो जाएं | लेकिन यहां पर आपको कंफ्यूज बिल्कुल नहीं होना है | बहुत सारे लोग यह सोचते हैं, की नीच और टॉपिक में क्या अंतर होता है? तो आपकी जानकारी के लिए बता दें- मान लीजिए कि आप एजुकेशन के नीच पर, वीडियो बनाना चाहते हैं | लेकिन उस एजुकेशन की नीच के अंदर, आप किसी एक particular subject के ऊपर, वीडियो बनाना चाहते हैं |

आप उसे डिटेल में समझाना चाहते हैं, आप उसकी एक पूरी स्टोरी क्रिएट करना चाहते हैं | आप उसको पार्ट बाय पार्ट लोगों के सामने दिखाना चाहते हैं | तो यह आपका टॉपिक होता है | इसलिए जब भी आप अपने चैनल का नीच सेलेक्ट कर लेते हैं | तो नीच सेलेक्ट करने के बाद, आपको टॉपिक का रिसर्च जरूर करना चाहिए |

कि आप कौन से टॉपिक पर वीडियो बनाने वाले हैं | और यह बहुत ही जरूरी होता है, आपके चैनल को एक ब्रांड बनाने के लिए | और आपके चैनल को ग्रो करने के लिए | इसलिए आपको वीडियो बनाने से पहले, टॉपिक रिसर्च जरूर करना चाहिए |

YouTube advanced settings channel keywords हालांकि टॉपिक रिसर्च करते समय, आपको यह भी ध्यान देना बहुत जरूरी है | कि आप जिस टॉपिक पर वीडियो बनाने वाले हैं | उस टॉपिक पर कितनी वीडियो पहले से बन चुकी हैं | और कितना ट्रेंडिंग टॉपिक है | और इस टॉपिक के ऊपर कितना कंपटीशन है | और आपको हमेशा कम कंपटीशन वाले टॉपिक, पर ही वीडियो बनाना चाहिए | क्योंकि अगर आपका चैनल नया है, और आप ज्यादा कंपटीशन वाले टॉपिक पर वीडियो बनाते हैं | तो आपके चैनल की ग्रोथ के लिए समस्या हो सकती है |

YouTube advanced settings channel keywords | इक्विपमेंट

YouTube advanced settings channel keywords अगर आपने अपने टॉपिक का रिसर्च कर लिया | और उसके बाद, अब आप वीडियो बनाना स्टार्ट करना चाहते हैं | तो इसके लिए आपको कुछ इक्विपमेंट की भी जरूरत होगी | जो कि बहुत जरूरी है |  जैसे कि आप जिस तरह की वीडियो बनाने वाले हैं | अगर आप फेस की वीडियो बनाने वाले हैं, तो आपके लिए जिन-जिन चीजों की जरूरत होंगी |

उस उस इक्विपमेंट को ध्यान में रखना, बहुत जरूरी है | जैसे कैमरा, लाइट, स्टैंड और लोकेशन | यह सारी चीजें बहुत जरूरी है | इसलिए आपको अपनी वीडियो को स्टार्ट करने से पहले | इन सारी इक्विपमेंट को जुटाना बहुत जरूरी है | इसलिए आप जब भी वीडियो बनाना स्टार्ट करते हैं | तो वीडियो बनाने से पहले इन सारे इक्विपमेंट का ध्यान देना चाहिए |

Content creating and calendering

YouTube advanced settings channel keywords जब आप इन सारे इक्विपमेंट को इकट्ठा कर लेते हैं | इसके बाद आता है, आपका कंटेंट क्रिएटिंग |  जब आप कंटेंट क्रिएटिंग करना चाहते हैं | आपने अपना टॉपिक रिसर्च कर लिया, आपने अपना कीवर्ड रिसर्च कर लिया | इसके बाद आपको कंटेंट क्रिएटिंग पर ध्यान देना है |

लेकिन आपको कंटेंट क्रिएट करने से पहले | आपको स्क्रिप्ट भी लिखना होगा | आप जिस कंटेंट को बनाने वाले हैं, उस कंटेंट में आप किन-किन चीजों को डिस्कस करने वाले हैं | और जिस कीवर्ड पर आप वीडियो बना रहे हैं | उसकी वर्ड के अंदर कौन-कौन से ऐसे पॉइंट है, जिन पॉइंट पर आप बात करने वाले हैं | आपको उन सारी पॉइंट को, एक स्क्रिप्ट में लिख कर रखना होगा | कि आप कौन से पॉइंट पर कब बात करने वाले हैं |

YouTube advanced settings channel keywords आप स्टार्टिंग में इन्ट्रो रखना चाहते हैं, उसके बाद आप अपनी वीडियो के अंदर क्या बताने वाले हैं | और उसके बाद जिस टॉपिक पर आप वीडियो बना रहे हैं | उनके जो-जो पॉइंट है, उन पॉइंट पर बात करनी है | साथ ही साथ आपको टाइम मैनेजमेंट भी करना होगा |

यानी कि कैलेंडरिंग | जैसे कि आप 1 जनवरी से वीडियो बनाने वाले हैं | तो आप अपनी वीडियो को 1 दिन में रोज अपलोड करने वाले हैं, या फिर हफ्ते में सिर्फ एक वीडियो अपलोड करने वाले हैं | इस चीज का खास ध्यान देना होगा | तभी आप अपने ऑडियंस को एक्टिव रख सकते हैं | इसलिए कैलेंडरिंग भी बहुत जरूरी है | और आपको हमेशा इसका ध्यान देना चाहिए |

YouTube Checklist | Knowledge input tool

YouTube advanced settings channel keywords मान लीजिए कि आपने अपना नीच सलेक्ट कर लिया |
आपने अपना टॉपिक सलेक्ट कर लिया | आपने कंटेंट भी बना लिया, उसके बाद आपने कंटेंट को अपलोड भी कर दिया | लेकिन इन सारी चीजों को करने के बाद, आपको कुछ टूल्स की जरूरत होगी | यह जानने के लिए कि आपका चैनल किस तरह से ग्रो कर रहा है | आपके चैनल पर कौन सा कीवर्ड रैंक कर रहा है | आपके चैनल की वीडियो कैसी चल रही है |

और आपकी जो कंप्टीटर हैं, वह क्या कर रहे हैं | वह किस कीवर्ड के ऊपर काम कर रहे हैं | और वह आप से कितना आगे हैं | इन सारी चीजों को जानने के लिए, कुछ टूल्स की भी जरूरत होगी | कुछ एप्लीकेशन की जरूरत होगी | जो कि आपको समय-समय पर यह जानकारी देते रहेंगे | कि आपको कि की वर्ड के ऊपर कंटेंट बनाना चाहिए | और आप के YouTube Channel की ग्रोथ कितनी तेज हो रही है | उदाहरण के लिए आप चाहे तो- tube buddy, vidiq और social blade जैसे एप्लीकेशन का भी इस्तेमाल कर के | यह सारी जानकारी हासिल कर सकते हैं |

आप चाहे तो अपने टॉपिक से रिलेटेड कीवर्ड के लिए, गूगल ट्रेंड का भी इस्तेमाल कर सकते हैं | जहां से आपको आसानी से यह पता चल जाता है | कि आजकल ट्रेंड में क्या चल रहा है | कौन सा टॉपिक ट्रेनिंग में है, और आपको किस टॉपिक पर वीडियो बनाना चाहिए | हालांकि यह फीचर आपके लिए बहुत ही जरूरी है | इसलिए आपको गूगल ट्रेंड का इस्तेमाल करना चाहिए |

कंसिस्टेंसी एंड रेलीवेंसी

YouTube advanced settings channel keywords अगर आप यह चाहते हैं कि, लोग आपको लंबे समय तक याद रखें | लोग आपके यूट्यूब  चैनल पर ज्यादा से ज्यादा आएं, और आपके चैनल का ज्यादा से ज्यादा ग्रोथ हो | तो इसके लिए आपको कंसिस्टेंट रहना पड़ेगा | आपको टाइम पर वीडियो अपलोड करनी होंगी | आपको अपनी ऑडियंस से हमेशा इंगेज रहना पड़ेगा | अगर आप हफ्ते में सिर्फ एक वीडियो डाल रहे हैं, तो आपको लंबे समय तक | जिस हफ्ते में आप जिस दिन, जिस टाइम पर, वीडियो अपलोड करते हैं, वह अपलोड करना पड़ेगा | जिससे कि लोग आपके चैनल पर, ज्यादा से ज्यादा भरोसा करेंगे |

YouTube advanced settings channel keywords यहां पर रेलीवेंसी का मतलब यह है कि | मान लीजिए कि आप टेक्नोलॉजी से रिलेटेड, कोई वीडियो बना रहे हैं | लेकिन आप जिस टॉपिक पर वीडियो बना रहे हैं | उस टॉपिक का अगर ट्रेंड खत्म हो गया है | तो आपको नए टॉपिक पर वीडियो बनाना चाहिए | क्योंकि अगर उसी टेक्नोलॉजी का, कोई लेटेस्ट मॉडल उपलब्ध है | जो कि ट्रेंड में है, और आप किसी पुरानी टेक्नोलॉजी पर वीडियो बना रहे हैं | तो ऐसे में आपके चैनल की ग्रोथ रुक जाएगी | इसलिए आपको कॉन्टेंट की रेलीवेंसी कर ध्यान देना बहुत ही जरूरी है |

निष्कर्ष

आज की इस पोस्ट में हमने यूट्यूब चैनल से रिलेटेड,
जरूरी चीजें- YouTube advanced settings channel keywords: Topic, Ideas, Niche,Channel & Video Optimization |
YouTube SEO  के बारे में समझा | उम्मीद है, आपको यह आर्टिकल पसंद आया होगा |
अगर आपको यह आर्टिकल पसंद आया तो, इसे अपने दोस्तों के साथ भी शेयर करें | धन्यवाद |

इसे भी पढें :- यूट्यूब की डीफाल्ट सेटिंग करें

janhvi shankar
janhvi shankarhttps://tiwariproduction.com
हेलो दोस्तों मैं janhvi shankar इस वेबसाइट का owner और founder हूं और इस वेबसाइट के माध्यम से हिंदी बायोग्राफी, बिजनेस टिप्स, वायरल न्यूज़ और बहुत सारी टेक्नोलॉजी से जुड़ी टिप्स शेयर करता हूं, नए लोगों को व्यवसाय के बारे में जानकारी देना हमारा मुख्य उद्देश्य है. साथ ही साथ मैं इस वेबसाइट पर इंटरनेट से जुड़ी जानकारी और blogging, WordPress की जानकारी भी शेयर करता हूं.

Related Articles

2 टिप्पणी

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Stay Connected

1,019फॉलोवरफॉलो करें
9,500सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें
- Advertisement -

Latest Articles